104 Surah Humaza in Hindi

104. सूरह अल-हुमज़ह

सूरह हुमज़ह के संक्षिप्त विषय

यह सूरह मक्की है, इस में 9 आयतें हैं।

  • इस का नाम ((सूरह हुमज़ह)) है क्यों कि इस की प्रथम आयत में यह शब्द आया है जिस का अर्थ है: व्यंग करना, ताना मारना, गीबत करना आदि।[1]
    1. यह सूरह भी मक्की युग की आरंभिक सूरतों में से है। इस का विषय धन के पुजारियों को सावधान करना है कि जिन की यह दशा होगी वह अवश्य अपने कुकर्म का दण्ड पायेंगे|
  • इस की आयत 1 से 3 तक में धन के पुजारियों के आचरण का चित्र दिखाया गया है और उन्हें सचेत किया गया है कि यह आचरण अवश्य विनाश का कारण है।
  • आयत 4 से 9 तक में धन के पुजारियों का परलोक में दुष्परिणाम बताया गया है।

Surah Humaza in Hindi

Play

بِسْمِ اللَّـهِ الرَّحْمَـٰنِ الرَّحِيمِ

बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम

अल्लाह के नाम से, जो अत्यन्त कृपाशील तथा दयावान् है।

وَيْلٌ لِّكُلِّ هُمَزَةٍ لُّمَزَةٍ ﴾ 1 ﴿

Transliteration

वैलुल लिकुल्ली हुमज़तिल लुमजह

हिंदी अनुवाद

विनाश हो उस व्यक्ति का, जो कचोके लगाता रहता है और चौटे करता रहता है।

Play

ٱلَّذِى جَمَعَ مَالًا وَعَدَّدَهُۥ ﴾ 2 ﴿

Transliteration

अल्लज़ी जमआ मालव व अद ददह

हिंदी अनुवाद

जिसने धन एकत्र किया और उसे गिन-गिन कर रखा।

Play

يَحْسَبُ أَنَّ مَالَهُۥٓ أَخْلَدَهُۥ ﴾ 3 ﴿

Transliteration

यह सबु अन्ना मा लहू अख्लदह

हिंदी अनुवाद

क्या वह समझता है कि उसका धन उसे संसार में सदा रखेगा?[1]
1. (1-3) इन आयतों में धन के पुजारियों के अपने धन के घमंड में दूसरों का अपमान करने और उन की कृपणता (कंजूसी) का चित्रण किया गया है, उन्हें चेतावनी दी गई है कि यह आचरण विनाशकारी है, धन किसी को संसार में सदा जीवित नहीं रखेगा, एक समय आयेगा कि उसे सब कुछ छोड़ कर ख़ाली हाथ जाना पड़ेगा।

Play

كَلَّا لَيُنۢبَذَنَّ فِى ٱلْحُطَمَةِ ﴾ 4 ﴿

Transliteration

कल्ला लयुम बज़न्ना फिल हुतमह

हिंदी अनुवाद

कदापि ऐसा नहीं होगा। वह अवश्य ही 'ह़ुतमा' में फेंका जायेगा।

Play

وَمَآ أَدْرَىٰكَ مَا ٱلْحُطَمَةُ ﴾ 5 ﴿

Transliteration

वमा अदराका मल हुतमह

हिंदी अनुवाद

और तुम क्या जानो कि 'ह़ुतमा' क्या है?

Play

نَارُ ٱللَّهِ ٱلْمُوقَدَةُ ﴾ 6 ﴿

Transliteration

नारुल लाहिल मूक़दह

हिंदी अनुवाद

वह अल्लाह की भड़काई हुई अग्नि है।

Play

ٱلَّتِى تَطَّلِعُ عَلَى ٱلْأَفْـِٔدَةِ ﴾ 7 ﴿

Transliteration

अल्लती तत तलिऊ अलल अफ इदह

हिंदी अनुवाद

जो दिलों तक जा पहूँचेगी।

Play

إِنَّهَا عَلَيْهِم مُّؤْصَدَةٌ ﴾ 8 ﴿

Transliteration

इननहा अलैहिम मुअ सदह

हिंदी अनुवाद

वह, उसमें बन्द कर दिये जायेंगे।

Play

فِى عَمَدٍ مُّمَدَّدَةٍۭ ﴾ 9 ﴿

Transliteration

फ़ी अमदिम मुमद ददह

हिंदी अनुवाद

लँबे-लँबे स्तंभों में।[1]
1. (4-9) इन आयतों के अन्दर परलोक में धन के पुजारियों के दुष्परिणाम से अवगत कराया गया है कि उन को अपमान के साथ नरक में फेंक दिया जायेगा। जो उन्हें खण्ड कर देगी और दिलों तक जो कुविचारों का केंद्र हैं पहुँच जायेगी, और उस में इन अपराधियों को फेंक कर ऊपर से बन्द कर दिया जायेगा।

Play